Masik Karka Rashifal - कर्क मासिक राशिफल

Cancer Rashifal

स्वास्थ्य: यह महीना स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से वैसे तो अनुकूल रहने की संभावना है लेकिन पूरे महीने अष्टम भाव में शनि महाराज विराजमान रहेंगे जिससे समय-समय पर आपका मानसिक तनाव बढ़ सकता है। आप अपने स्वास्थ्य को नजरअंदाज ना करें तो बेहतर होगा क्योंकि अगर ऐसा करते हैं तो फिर कोई ना कोई बीमारी आपको अपनी चपेट में ले सकती है। अगर सतर्क रहेंगे और सावधान रहेंगे तथा अच्छे खान-पान का ध्यान रखेंगे तो आपका स्वास्थ्य उत्तम बना रहेगा। आपके पंचम भाव पर बहुत सारे ग्रहों का प्रभाव रहेगा क्योंकि मंगल, शनि, बृहस्पति, सूर्य, बुध, और शुक्र आपके पंचम भाव पर दृष्टि डालेंगे इससे आपके अमाशय यानी कि आपके पेट पर असर पड़ सकता है। आपका पाचन तंत्र बिगड़ सकता है। आपको अपच, एसिडिटी, पाचन तंत्र से संबंधित समस्याएं परेशान कर सकती हैं। अपने स्वास्थ्य का इस मामले को लेकर ज्यादा ध्यान दें शेष सब अनुकूल होगा।

कैरियर: करियर के दृष्टिकोण से यह महीना उतार-चढ़ाव से भरा रहने की संभावना है। दशम भाव के स्वामी मंगल महाराज दशम भाव में विराजमान रहकर आपकी नौकरी में स्थितियों को प्रबल बनाएंगे। आपके अधिकार क्षेत्र में बढ़ोतरी होगी, आपकी पद वृद्धि भी हो सकती है, यानी कि अच्छी पोजीशन मिलने की संभावना बढ़ जाएगी और आप अपने कार्य क्षेत्र में जम जाएंगे। आपके वरिष्ठ अधिकारियों से भी आपको पूरा समर्थन मिलेगा और उसके बलबूते आप अपने काम को बेहतर बनाते हुए कार्यक्षेत्र में अपनी जगह पक्की करने में सफल रहेंगे लेकिन कार्यक्षेत्र में किसी कंट्रोवर्सी में फंसने से बचने की कोशिश करें नहीं तो सब कुछ बेकार हो सकता है। छठे भाव के स्वामी देव गुरु बृहस्पति एकादश भाव में विराजमान रहेंगे जिससे संघर्ष और कठिनाई के बाद आपको अच्छी सफलता मिल सकती है और करियर में आपको मनचाहे परिणाम प्राप्त होने के योग बनेंगे। बुध, शुक्र और सूर्य ग्रह महीने के उत्तरार्ध में द्वादश भाव में जाकर छठे भाव को देखेंगे जिससे कार्यक्षेत्र में हल्की फुल्की समस्याएं महीने के उत्तरार्ध में आ सकती हैं। उन्हें अपनी समझदारी से दूर करने में आप सफल हो सकते हैं। व्यापार करने वाले जातकों के लिए यह महीना उतार-चढ़ाव से भरा रहने वाला है। सप्तम भाव के स्वामी शनि महाराज भी अष्टम भाव में विराजमान रहेंगे इसलिए आपको थोड़ी सी सावधानी रखनी होगी। कोई भी ऐसा कार्य न करें जो कानून की नजर में गलत हो अन्यथा आपको उसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है और उसका सर आपके व्यापार की वृद्धि पर पड़ सकता है। यदि इन बातों का ध्यान रखेंगे तो व्यापार में धीरे-धीरे प्रगति होने लगेगी। देव गुरु बृहस्पति पूरे महीने आपके सप्तम भाव पर दृष्टि डालेंगे जिससे व्यापार को वृद्धि मिलती रहेगी। परिवार के वरिष्ठ सदस्य और अनुभवी व्यक्तियों का सहयोग आपके व्यापार में उन्नति प्रदान करने में मददगार बनेगा।

प्रेम / विवाह / व्यक्तिगत संबंध: यदि आपके प्रेम संबंध पर दृष्टि डाली जाए तो यह महीना कई मामले में आपके लिए अच्छा रहने वाला है। यदि आप अभी तक सिंगल हैं तो आपके मिंगल होने का समय आ गया है। यानी कि आपके जीवन में प्यार की दस्तक हो सकती है। कोई आपके दिल के करीब आ सकता है और आपका खास बन सकता है और आप प्यार के सागर में सराबोर हो सकते हैं। यदि आप पहले से ही किसी रिश्ते में हैं तो यह समय आपके प्रेम संबंध को मजबूत बनाएगा। शनि और मंगल ग्रह के प्रभाव तथा सूर्य की भी पंचम भाव पर दृष्टि होने के कारण बीच-बीच में रिश्ते में खटास आने की नौबत आ सकती है लेकिन बुध और शुक्र महीने के पूर्वार्ध में आपके रिश्ते को बनाएं और बचाए रखेंगे और उसमें रोमांस का तड़का भी लगाते रहेंगे इसलिए यह महीना खट्टी-मीठी यादों के साथ आगे बढ़ेगा। यदि आप विवाहित हैं तो यह महीना थोड़ी सावधानी रखने का है। सप्तम भाव के स्वामी शनि महाराज अष्टम भाव में विराजमान रहेंगे जिससे सारा प्रभाव आपके ससुराल पक्ष की ओर रहेगा। आपको इनसे अच्छा सामंजस्य बिठाना होगा ताकि किसी प्रकार की कोई समस्या ना हो। देव गुरु बृहस्पति एकादश भाव से सप्तम भाव पर अपनी पूर्ण नवम दृष्टि डालेंगे जिससे आपके वैवाहिक जीवन में खुशियों की आहट होगी और आप चुनौतियों को दरकिनार करते हुए अपने रिश्ते को संभाल पाएंगे।

सलाह: आपको प्रतिदिन श्री बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए। मंगलवार के दिन हनुमान जी के मंदिर में पके हुए लाल अनार का भोग लगाना चाहिए। चींटियों को आटा डालना चाहिए। मछलियों को दाना डालना भी अच्छा रहेगा।

सामान्य: यह महीना कर्क राशि के जातकों के लिए कई मायनों में बहुत अनुकूल रहने की संभावना है। आपकी बहुत पुरानी इच्छाएं भी इस महीने पूरे हो सकती हैं। महत्वाकांक्षाओं की पूर्ति होगी जिससे आपको बड़ी खुशी मिलेगी। आपके रुकी हुई योजनाएं भी पूर्ण होने लगेगी जिससे आपको धन लाभ के योग बनेंगे। एक से ज्यादा माध्यमों से धन प्राप्ति होगी और आपकी आर्थिक स्थिति में जबरदस्त इजाफा देखने को मिलेगा। महीने के उत्तरार्ध में खर्चे भी बढ़ेंगे लेकिन आप पूर्वार्ध में इतना कमा लेंगे कि इन खर्चों को आसानी से पार कर लेंगे। इस दौरान आप कोई नया वाहन अथवा नई जमीन या प्लॉट खरीदने में कामयाब हो सकते हैं। स्वास्थ्य को लेकर थोड़ी सी सावधानी रखने से आप बड़ी बीमारियों की चपेट में आने से बच सकते हैं। करियर के लिए भी यह महीना अनुकूल रहेगा। विशेष रूप से नौकरी करने वाले जातकों को अच्छा लाभ प्राप्त होगा। व्यापार करने वाले जातकों को कुछ उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। प्रेम संबंधों में प्रगाढ़ता आएगी, विवाहित जातकों को कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है लेकिन धीरे-धीरे ही सही आपकी वैवाहिक जिंदगी संभल जाएगी। पारिवारिक जीवन के लिए समय मध्यम रहने वाला है। विद्यार्थियों को शिक्षा में व्यवधानों के बावजूद अच्छी प्रगति करने का मौका मिलेगा। महीने के उत्तरार्ध में विदेश यात्रा की संभावना भी बनेगी। यह महीना यात्राओं से भरा रहने वाला है।

वित्त: यदि आपकी आर्थिक स्थिति को देखा जाए तो यह महीना आर्थिक तौर पर आपके लिए वरदान के समान साबित हो सकता है। बस आपको इसका सही इस्तेमाल करना होगा। आपके पास एक से ज्यादा माध्यमों से धन आगमन के योग बनेंगे। व्यापार में भी धन वृद्धि होगी और नौकरी में भी पद प्राप्ति होने से आपकी तनख्वाह में वृद्धि हो सकती है। आपने शेयर बाजार में धन लगाया था तो उसके लिए वैसे भी आपको इस समय में अच्छा आर्थिक लाभ प्राप्त हो सकता है। इसके अलावा सरकारी क्षेत्र से भी लाभ होने के योग बन सकते हैं। इस प्रकार आपको पक्की आमदनी प्राप्त होने की स्थिति बनेगी दैनिक आमदनी भी अच्छी रहेगी। महीने के उत्तरार्ध में शुक्र और सूर्य द्वादश भाव में चले जाएंगे जिससे आपके खर्चे जबरदस्त हो सकते हैं। यह आपको परेशानी तो देंगे लेकिन आप इतना अच्छा कमा चुके होंगे कि इन खर्चों को आसानी से जीत लेंगे और आप पर कोई विशेष दबाव नहीं रहेगा। फिर भी अपने खर्चों को नियंत्रण में रखना सदैव अच्छा ही होता है। इस महीने कोई वाहन खरीदने या चल अथवा अचल संपत्ति खरीदने का योग बन सकता है।

पारिवारिक: यह महीना पारिवारिक तौर पर मध्यम रहने की संभावना है। दूसरे भाव के स्वामी सूर्य महाराज एकादश भाव में विराजमान रहेंगे जिससे पैतृक संपत्ति का लाभ मिलेगा। पैतृक व्यवसाय में भी अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है जिससे परिवार की सकल घरेलू आय में बढ़ोतरी होगी और परिवार के सदस्यों का आपसी मेल भाव बना रहेगा। बड़े भाई बहनों का पूरा सहयोग आपके साथ रहेगा और आपके किसी नए व्यापार को शुरू करने में परिवार वाले आर्थिक मदद कर सकते हैं। परिवार में कोई बड़ा समारोह आयोजित किया जा सकता है जिसमें सभी लोग आते-जाते रहेंगे और घर का माहौल सुख शांति पूर्ण बना रहेगा। महीने के उत्तरार्ध में जब सूर्य द्वादश भाव में जाएंगे तो परिवार के किसी सदस्य के विदेश जाने के योग बन सकते हैं। चतुर्थ भाव के स्वामी शुक्र महाराज महीने के शुरुआत में एकादश भाव में रहेंगे और मंगल की दृष्टि चतुर्थ भाव पर रहेगी जिससे संपत्ति के क्रय और विक्रय दोनों के योग बनेंगे और इन दोनों ही से आपको अच्छा लाभ देखने को मिलेगा। 12 जून को शुक्र द्वादश भाव में विराजमान हो जाएंगे। यह समय विदेश यात्रा का हो सकता है। तीसरे भाव में केतु महाराज उपस्थित रहेंगे और उन पर देव गुरु बृहस्पति की पूर्ण दृष्टि रहेगी। आपके भाई-बहनों का रवैया सहयोगात्मक रहेगा लेकिन वह मानसिक रूप से कुछ तनावग्रस्त होंगे। हालांकि उनके मन में धार्मिक विचार रहेंगे और आपसे उनका जुड़ाव बना रहेगा।